Table of Contents

Enquire Form
Recent Posts

हेयर ड्रेसर का कोर्स करके खुद का शुरू करें सैलून, जानिए इसके बारे में संपूर्ण जानकारी । Start your own salon by doing a hairdresser course, know all the information about it.

हेयर ड्रेसर का कोर्स करके खुद का शुरू करें सैलून, जानिए इसके बारे में संपूर्ण जानकारी

दोस्तों आप एक हेयर ड्रेसर बनकर अपने करियर में आगे बढ़ना चाहते है और खुद का सैलून ऑपन करना चाहते है, तो दोस्तो आज हम आपको इस टॉपिक के बारे में पूरी जानकारी देंगे। आज हम आपको हेयर ड्रेसर कोर्स के बारे में बताएंगे। साथ ही खुद का सैलून कैसे स्टार्ट करें इस बारे भी बताएंगे। वैसे तो आजकल युवाओं में हेयर ड्रेसर बनने का काफी शौक हो रहा है। और इस करियर को चुनकर कई लोग काफी ज्यादा आगे भी बढ़ रहे है, तो चलिए सबसे पहले हेयर ड्रेसर कोर्स क्या होता है इस बारे में जानते है।

हेयर कोर्स क्या होता है?

हेयर कोर्स में हेयर से रिलेडेट कोर्स कर सकते है। इसमें स्टूडेंट्स को हेयर कटिंग, हेयर स्टाइलिंग, हेयर कलर, हेयर बन, यू लेयर कटिंग, वी लेयर कटिंग, लेजर कटिंग आदि के बारे में सीखाते है। हेयर कोर्स में आप सार्टिफेकट से लेकर डिप्लोमा तक के कोर्सेस कर सकते है। यदि आप डिप्लोमा इन हेयर कोर्स करते हैं, तो इसमें लगभग 2 से 4 महीने का समय लगता है। वहीं, आप सार्टिफिकेट कोर्स करते हैं, तो इसमें 1 हफ्ते से लेकर 20 दिन का होता है। हेयर कोर्स करने में लगभग 9 हजार से लेकर 2 लाख 50 हजार तक का खर्चा आता है। कोर्स के बाद एकेडमी की ओर से सार्टिफिकेट भी प्रोवाइड करवाया जाता है।

हेयर ड्रेसर कौन होते है?

एक परफेक्ट हेयर ड्रेसर वो होता है, जो कि किसी भी टाइप के बालों पर किसी भी प्रकार की हेयर स्टाइल, हेयर कटिंग, कलरिंग आदि करने का सुझाव देता है। साथ ही हेयर ड्रेसर का काम होता है वह क्लाइंट के फेस अनुसार और उसकी ड्रेस के अनुसार क्लाइंट पर जो हेयर स्टाइल अच्छी लगे। वह हेयर स्टाइल बनाएं।

हेयर ड्रेसर बनने के बाद सैलून कैसे स्टार्ट करें?

सैलून स्टार्ट करने से पहले आपको किसी भी अच्छी एकेडमी से हेयर कोर्स में सार्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स करना होगा। हेयर कोर्स के लिए आज हम आपको दिल्ली-एनसीआर की टॉप 3 हेयर ड्रेसर एकेडमी के बारे में बताते है, जहां से आप कोर्स करके अपना सैलून स्टार्ट कर सकते है।

delhi 's top 3 hair course academy

सैलून स्टार्ट करने में निवेश

  1. किसी भी बिजनेस को ऑपन करने में निवेश सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। ऐसे में आप अपना सैलून कैसा चाहते है यह आपके निवेश पर निर्भर करता है। आप चाहे तो शुरुआती समय में मात्र 50 हजार का निवेश करके सैलून खोल सकते है। फिर बाद में धीरे-धीरे और पैसे लगाकर अपने सैलून को बढ़ा सकते है।
  2. आजकल बिजनेस ऑपन करने के लिए सरकार ने कई योजनाएं निकाल रखी है। ऐसे में आपको निवेश करने में भी ज्यादा दिक्कत नहीं होगी। आप सैलून शुरुआत करने के लिए बैंक से लोन भी ले सकते है।

सही एरिया का चुनाव

  1. एरिया सबसे ज्यादा मैटर करता है। सैलून स्टार्ट करने से पहले एरिया का चुनाव जरूर करें। अगर एरिया अच्छा होगा तो आपका सैलून भी अच्छा चलेगा और आपने गलत एरिया में सैलून खोला तो हो सकता है आपका बिजनेस डूब जाए।
  2. अगर आपको अपना सैलून हल्का-फुल्का चलाना हो, तो आप कहीं पर भी सैलून ऑपन कर सकते है, लेकिन आप इस फील्ड में जल्दी अर्निंग चाहते है, तो आप एक ऐसे एरिया को चुने, जहां सैलून की हाई डिमांड हो और जिससे आपका काम अच्छा चलेगा। सही एरिया का चुनाव आप ऐसे कर सकते है जैसे- शहरों में, बाजारों, सोसायटी आदि। क्योंकि ऐसी जगहों पर लोगों का आना-जाना लगा रहता है।
  3. अगर आपका बहुत ही लॉ बजट है, तो आप तब भी टेंशन न लें। कम बजट में भी कई लोग अपना काम स्टार्ट करते है। ऐसे में आप अपने घर में भी सैलून खोल सकते हैं।

सैलून का एटमोसफेयर

  1. बिजनेस डालने से पहले एटमोसफेयर का जरूर रखें। अब आप सोच रहे होगे कि एटमोसफेयर का ध्यान कैसे रखें, तो इसके लिए आपको सैलून का माहौल हमेशा खुशनुमा और हंसता-खिलता होना चाहिए। यदि ऐसा नहीं होगा तो आपके काम में आपको नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।
  2. सैलून में आपका व्यवहार और वहां उपस्थित स्टॉफ एक-दूसरे से व्यवहार अच्छा होना चाहिए। जैसे- आपका आपके स्टाफ से, आपके स्टाफ का क्लाइंट से, आपका क्लाइंट से आदि।
  3. एटमोसफेयर का सबसे बेनिफिट यह भी रहता है कि यदि आपका व्यवहार, आपकी सर्विसस अच्छी होगी तो क्लाइंट बार-बार आपके सैलून में आएगे। इसके अलावा और भी कुछ चीज़ों का ध्यान आपको रखना होगा। जैसे सैलून को हमेशा साफ-सूथरा रखें, सैलून में हमेशा एक सॉफ्ट म्यूजिक या फिर टीवी ऑन रहें, जिससे लोगों को आपके सैलून का वातावरण अच्छा लगे।

सैलून में यूज होने वाले इक्यूपमेंट्स

इक्यूपेमेंट्स यानि कि औजार… सैलून ऑपन करने के लिए इक्यूपमेंट्स की जरूरत काफी ज्यादा पड़ती है। सैलून में ज्यादा काम मशीनों से ही किया जाता है, जैसे कि ड्राई हेयर, स्ट्रीमर, बालों के कटिंग के लिए कई तरह की मशीन, हेयर स्ट्रेटनर, फुट स्पा आदि। यदि यह सभी मशीनें आपके सैलून में रहेगी तो इसका इंपैक्ट आपके सैलून में काफी अच्छा पड़ेगा। इस प्रकार आपको अपने निवेश का एक हिस्सा मशीनों पर खर्च करना ही पड़ेगा।

ब्यूटी सैलून का करें प्रचार

यदि आप अपने सैलून के लिए कम समय ज्यादा नेटवर्थ बनाना चाहते है, तो आपको अपने सैलून का प्रचार कई माध्यमों से करना रहेगा। जैसे- ऑनलाइन, ऑफलाइन।

ऑनलाइन माध्यम से प्रचार

  1. आप अपने बिजनेस को गूगल की लिस्टिंग में डाल सकते हैं जैसे अगर कोई गूगल पर ब्यूटी सैलून सर्च करता है या फिर आपके नाम से आपके सैलून को सर्च कर सकता है, जहां पर आपके सैलून का पूरा पता मिल जाएगा।
  2. ब्यूटी सैलून को बढ़ाने के लिए जस्ट डायल में भी अपने सैलून के बारे में डलवा सकते है। जस्ट डायल एक ऐसा प्लेटफार्म है कि वह किसी भी क्षेत्र के लोकल बिजनेस की सूचना प्रोवाइड कराता है, जो कि आपको या तो इंटरनेट की सहायता से आसानी से पता चल जाता है।

ऑफलाइन माध्यम से प्रचार

  1. ऑफलाइन के जरिए से भी आप अपने पार्लर का प्रचार कर सकते है। इसके लिए आपको जगह-जगह पर पोस्टर लगाकर, स्थानीय अखबार में विज्ञापन के जरिए आदि तरीकों से प्रचार कर सकते है।
  2. अगर आप ज्यादा खर्चा कर सकते है, तो आप अपने पार्लर के बड़े-बड़े होर्डिंग बनवा कर भी कई स्थानों पर लगवा सकते हैं।
  3. साथ ही आप अपने पार्लर के बाहर भी एक बड़ा बोर्ड अवश्य लगवाएं।

योग्य स्टाफ रखें

अगर आप अपने ब्यूटी सैलून में स्टाफ रख रहे है, तो पहले आप यह जांच लें, कि वह आपके ग्राहकों को जो सेवाएं दे रहे हैं, उनमें वे निपुण है या नहीं। अगर आपका स्टाफ किसी काम में निपुण नहीं है या फिर उसका व्यवहार अच्छा नहीं है तो यह आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। यही स्टाफ अच्छा और निपुण है तो यह आपकी कामयाबी के लिए और अभी अच्छा है। बता दें, मेरीबिंदिया इंटरनेशनल एकेडमी के यहां काफी स्टूडेंट्स को देश-विदेश से जॉब के लिए ऑफर आते है।  

ग्राहक का सम्मान करें

जब भी आपके ब्यूटी सैलून में कोई ग्राहक आता है, तो आप और आपका स्टाफ उनका उचित सम्मान करें। 

Facebook
Twitter
LinkedIn
Pinterest
WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *